इरफ़ान की तरह ही उनके बेटे बाबिल ने भी अपने नाम से खान सरनेम हटाया, धर्म की जगह चुना NO RELIGION

दिग्गज अभिनेता इरफ़ान का इसी साल का 29 अप्रैल, 2020 को नि’धन हो गया था। आज भी फैंस इरफान को न केवल उनकी अदाकारी के लिए बल्कि उनकी अनोखी पर्सनालिटी के लिए भी याद करते हैं। इरफान खान के बेटे बाबिल अकसर फैंस को अपने पिता की यादों से रूबरू कराते रहते हैं और अब हाल ही में अपने पिता के नक़्शे कदम पर चलते हुए उनकी ही तरह बाबिल ने भी कुछ ऐसा ही काम किया है।

दरअसल, निधन से पहले इरफान खान ने अपने नाम से अपना सरनेम ‘खान’ को हटा लिया था। इरफान को सिर्फ इरफ़ान के नाम से इंट्रोड्यूस किया जाने लगा था और वह सोशल मीडिया पर अपना अकाउंट भी इरफान के नाम से ही चलाते थे। वहीं, अब उनके बड़े बेटे बाबिल ने भी पिता के नक्शेकदम पर चलने का फैसला किया है।

हाल ही में बाबिल ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक फोटो शेयर की है, जिसमें लैपटॉप की स्क्रीन पर वो एक फॉर्म भरते हुए नजर आ रहे हैं। फॉर्म की फोटो में दिखाई दे रहा है कि धर्म वाले कॉलम में उन्होंने नो रिलिजन (No Religion) लिखा हुआ है। बाबिल की शेयर की हुई इस पोस्ट से लग रहा है कि वह धर्म का पर्दा हटाकर अपने पिता के जैसे ही उनके फूटस्टेप्स को फॉलो कर रहे हैं।

बता दें कि इरफान ने जब अपना सरनेम हटाया था तब उन्होंने बताया था कि मुझे बार-बार मेरे पासपोर्ट पर अपने धर्म के बारे में बताने के लिए कहा जाता था, इसलिए मैंने अपने नाम से ‘खान’ को हटाने का फैसला कर लिया। धर्म एक व्यक्ति का अपना निजी मामला है। ‘पान सिंह तोमर’ का रोल करने के बाद मैं खुद को ज्यादा भारतीय महसूस करता हूं ना कि किसी धर्म का एक इंसान। बहरहाल , इरफ़ान दो साल से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से जूझने के बाद 29 अप्रैल 2020 को दुनिया को अलविदा कह गए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *