प्रदर्शनकारी किसानों पर हुई लाठीचार्ज पर भड़की स्वरा भास्कर, ट्वीट कर लिखा-, सबसे दुख…..

कृषि कानूनों को लेकर देश के किसानों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। दिल्ली बॉर्डर पर पंजाब, हरियाणा, यूपी और राजस्थान के किसान केंद्र सरकार द्वारा पारित नए कृषि कानून के खिलाफ अपना विरोध जता रहे हैं। इस दौरान किसानों और सुरक्षाबलों के बीच काफी झड़प देखने को मिली थी। सुरक्षाबलों ने किसानों पर वाटर कैनन, आंसू गैस गोलों और लाठीचार्ज का भी इस्तेमाल किया।

इस बीच देश के राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक मुद्दों पर बड़ी बेबाकी से अपनी राय रखने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने किसानों के प्रदर्शन पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहने वाली स्वरा भास्कर ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है। इस तस्वीर में सुरक्षाबल का सिपाही एक किसान पर लाठीचार्ज करता हुआ नजर आ रहा है।

इस तस्वीर को शेयर करते हुए स्वरा भास्कर ने दुख जताया और अपने ट्वीट में लिखा, ‘सबसे दुख की बात यह है कि यह जवान भी किसान का ही बेटा होगा!’ सोशल मीडिया पर स्वरा भास्कर का यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है। अभिनेत्री के फैन्स और तमाम सोशल मीडिया यूजर्स उनके इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

केंद्र सरकार द्वारा पारित नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन लगातार तीसरे दिन भी जारी है। विरोध प्रदर्शन के लिए एक स्थान निर्धारित होने के बावजूद किसानों ने रात दिल्ली-हरियाणा को जोड़ने वाले सिंघु बॉर्डर पर गुजारी। अब आगे की रणनीति तय करने के लिए शनिवार को किसानों की बैठक होगी। बड़ी संख्या में किसान टिकरी बॉर्डर पर भी इकट्ठे हो गए हैं।  सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर इकट्ठा हुए किसानों को प्रदर्शन करने के लिए बुराड़ी के निरंकारी समागम ग्राउंड में अनुमति दी गई है लेकिन अनुमति मिलने के बावजूद किसानों ने बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में जाकर विरोध प्रदर्शन करने से इनकार कर दिया है। वहीं दिल्ली पुलिस लगातार किसान नेताओं के संपर्क में है और उन्हें समझाने-बुझाने का प्रयास कर रही है।

सिंघु बॉर्डर पर किसानों की बैठक जारी है। इस बैठक में किसान इसपर चर्चा कर रहे हैं कि उन्हें आगे का प्रदर्शन सीमा पर ही जारी रखना है कि बुराड़ी के समागम ग्राउंड में प्रदर्शन करना है। पंजाब के फतेहगढ़ साहीब से भी बड़ी संख्या में किसान दिल्ली की ओर कूच कर रहे हैं। इस कारण से सीमा पर भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *