“मैं लक्ष्मी तेरे आंगन की” फेम निशा रावल ने बेली शेमिंग करने वालों को सुनाई खरी खोटी, कहा- मैं प्रेग्नेंट..

फिल्म और टीवी के सितारों को कई बार अपने शरीर की वजह से बॉडी शेमिंग का शिकार होना पड़ा है। ये सितारे कभी-कभी अपनी तस्वीरों को लेकर भी ट्रोल होते रहते हैं, बता दें, एक्ट्रेस निशा रावल (Nisha Rawal) ने बॉडी शेमिंग को लेकर एक ऐसा ही खुलासा किया है, जिसमें अपने गुस्से को जाहिर करते हुए उन्होंने कहा है कि उन्हें एक या दो बार नहीं बल्कि कई बार बॉडी शेमिंग का शिकार होना पड़ा है। खुद के साथ लगातार हो रहे ऐसे बर्ताव पर एक्ट्रेस ने अपनी तस्वीर शेयर करते हुए एक लंबी चौड़ी पोस्ट लिखी है।

निशा रावल ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पर अपनी दो तस्वीरें शेयर की हैं। इन तस्वीरों में वह अपना पेट दिखाती हुईं नजर आ रही हैं। इन तस्वीरों के जरिये उन्होंने उन लोगों पर अपना गुस्सा जाहिर किया है, जो उनके पेट को देखते ही पूछते हैं कि क्या वह प्रेग्नेंट हैं। निशा ने अपनी पोस्ट में लिखा, ‘शादी के बाद बॉडी शेमिंग पर यह मेरी तीसरी पोस्ट है। यह तस्वीर कल ही क्लिक की गई हैं और हां मैं प्रेग्नेंट नहीं हूं और हां… ये मेरा पेट है। बेली शेमिंग हमारे कलंकित समाज में मौजूद कई प्रकार की शेमिंग में से एक है।’

View this post on Instagram

♥️ BELLY-SHAME! This picture was clicked yesterday & ‘No! I ain’t pregnant’ & ‘Yes! I have a belly’ This must be my 3rd elaborate post on shaming! Shame, 1stly is the strongest of human emotions! The victim withdraws into his shell. It never did anyone, any good! Belly shame is one of the many kinds of shaming we have in our stigmatised society! I have always had a tummy. It would become smaller or bigger depending on my fitness regime but would never go away! I was always ashamed of it & that made me do things that would either injure me by beating myself up in the gym doing crunches until my muscles went into a cramp or would do the opposite with my hog-sprees! After we got married, all eyes were even more on my tummy! And now they had the audacity of transforming into questions, at the red carpet, in the lift, in interviews, coffee shops: ‘Are u pregnant?’ While I was like, ‘Am I supposed to be or am I even supposed to answer that question or should I work more on my belly, and towards the end of it, that shame would make me indulge more, making it a vicious cycle! See that’s what shaming does, it just makes the victim do more of what he is shamed about. We all have shamed someone, knowingly or unknowingly because our culture conditions us to believe it’s normal to ask anyone, ‘Hey why all the weight?’ ‘Don’t u eat anything?’ ‘You must be dieting too much’, and on goes the list! And after we have babies, except for a rare, few women, our bellies are never the same! They sag and have stretch marks! We won’t wear a bikini, won’t have sex with lights on and would suddenly become so conscious of the bodies we have lived in all our lives! It’s not easy to accept this new found body post birth. But let’s atleast hold each other’s hands and try! Let’s uplift each other! A few stretch marks and a changed belly does not change our soul! Let’s learn to love ourselves . . ♥️ We have all been victims and culprits of shame! Let go of this stigma! Let in the love! . . ♥️ I am listening, if you wish to share anything! Sharing is therapy to our heart!💓 . . Also tag a friend who you feel might need to read this post! . . Reposted from @themotherhoodchronicles_tmc

A post shared by Nisha Rawal (@missnisharawal) on

एक्ट्रेस ने आगे लिखा, ‘मेरी हमेशा से ही टम्मी रही है। मेरी सेहत के हिसाब से मेरा पेट कभी बड़ा हो जाता है तो कभी छोटा। मैंने हमेशा से इस पर काम किया और जिम में घंटो बिताए, लेकिन ये कभी गया नहीं। जिसके चलते लोग अक्सेर पूछते हैं कि क्या मैं प्रेग्नेंट हूं? उस समय मैं सोचती थी कि मैं इस सवाल का जवाब दूं भी या नहीं ? या फिर मैं अपनी बेली पर काम करूं।’

इसके साथ ही निशा रावल ने अपने पेट को लेकर जज्बात जाहिर करते हुए लिखा, ‘बच्चा होने के बाद बहुत सी महिलाओं की बेली पहले जैसी नहीं रहती है, इस पर स्ट्रेच मार्क पड़ जाते हैं, हम बिकिनी नहीं पहन सकते हैं और अचानक से ही हम अपनी बॉडी को लेकर काफी असहज महसूस करने लगते हैं। इसलिए कुछ स्ट्रेच मार्क और बेली आपकी आत्मा को बदल नहीं सकती। इसलिए खुद से प्यार करना सीखो।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *