संगीतकार वाजिद खान की पत्नी ने ससुरालवालों पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- मुझे धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जा रहा है

1 जून 2020 को मशहूर संगीतकार वाजिद खान का नि’धन हो गया था। लंबे समय से वो किडनी की बीमारी से पीड़ित थे और अस्पताल में भर्ती थे। इलाज के दौरान ही वाजिद कोरोना से संक्रमित हो गए थे और दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनका नि’धन हो गया।
वाजिद के अंतिम संस्कार पर उनकी पत्नी कमलरुख भी अपने दोनों बच्चों के साथ आखिरी दर्शन के लिए आई थीं और तब इस बात का भी खुलासा हुआ था की वाजिद पिछले दो साल से अपने परिवार से अलग रह रहे थे। पत्नी से उनका अलगाव हो गया था।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Kamalrukh Kahn (@kamalrukhkhan)

इस अलगाव की वजह का खुलासा कमलरुख ने पति वाजिद के नि’धन के 5 महीने बाद किया है। कमलरुख और उनके दोनों बच्चों अर्शी और रेहान के लिए वाजिद का जाना बहुत सदमे वाला रहा। परिवार अब भी उनके नि’धन के शोक में है।

इसी बीच वाजिद की पत्नी कमलरुख ने ससुराल वालों पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। उनका आरोप है की वाजिद का परिवार उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर कर रहा है। उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक लंबा चौड़ा नोट शेयर किया है। उन्होने लिखा है कि शादी के बाद कैसे उनको धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया गया।

उन्होंने लिखा है,” इन दिनों देश में धर्मांतरण विरोधी बिल पर बहस चल रही है और इसलिए मेरी कहानी भी सामने आनी चाहिए। अंतरजातीय विवाह करने पर एक महिला को धर्म परिवर्तन के लिए जिस तरह मजबूर किया जाता है वो शर्मनाक है। मेरा नाम कमलरुख खान है और मैं  संगीतकार वाजिद खान की पत्नी हूं। उनसे शादी करने से पहले हम दोनों 10 साल रिलेशन शिप में थे। मैं पारसी और वह मुसलमान थे। हम “कॉलेज स्वीटहार्ट्स” थे। हम दोनों ने स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत शादी की थी।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Kamalrukh Kahn (@kamalrukhkhan)

” शादी के बाद मुझपर धर्म परिवर्तन के लिए दवाब बनाया जाने लगा। मैं तबाह हो गई थी, धोखा महसूस किया और भावनात्मक रूप से टूट गई, लेकिन मैंने और मेरे बच्चों ने सब्र किया। मैं एक पढ़ी लिखी और आजाद ख्याल की महिला हूं और मैंने अपना धर्म परिवर्तन नहीं किया। इस वजह से मेरे और मेरे पति के रिश्ते में दरार आ गई। धर्म परिवर्तन ना करने पर नौबत तलाक तक आ गई। वाजिद के नि’धन के बाद भी उनके परिवार का अत्याचार मुझ पर जारी है। मैं अपने बच्चों के हक की लड़ाई लड़ रही हूं वो मुझे धर्म परिवर्तन के लिए कह रहे हैं। मैं अपने बच्चों के अधिकारों और विरासत के लिए लड़ रही हूं, जो उनके द्वारा छीन लिए गए हैं। यह सब इसीलिए किया जा रहा है क्योंकि मेरे द्वारा इस्लाम कबूल ना करने की वजह से वो नफरत करते हैं। ये नफरत इतनी गहरी है कि किसी प्रियजन की मृत्यु से भी उन्हें कोई फर्क नही पड़ता है। ”

वाजिद खान की पत्नी एक मनोचिकित्सक हैं। वो काफी पढ़ी लिखी और खुले विचारों की महिला है। अभिनेत्री काजोल उनकी करीबी सहेली है। उनके इंस्टाग्राम पर काजोल के साथ उनकी कई तस्वीरें हैं।

कमलरुख का कहना है कि वाजिद जब उनके साथ कॉलेज में पढ़ते थे तब उनके खुले विचारों से प्रभावित होकर उन्होंने शादी की थी। उनके संगीत से वो प्यार करती थीं लेकिन शादी के बाद वो बदलने लगे। परिवार में प्यार की जगह धर्म बहुत बड़ा मुद्दा बनता जा रहा था।

उनपर वो धर्म परिवर्तन का दवाब बनाने लगे लेकिन वो झुकी नहीं। कमलरुख ने जब साजिद और उनके परिवार की बात नहीं मानी तो वो उन्हें और बच्चों को छोड़कर चले गए। कमलरुख की माने तो वो सभी धर्मों का आदर करती हैं और अपने बच्चों को भी वो वैसी ही परवरिश दे रही हैं।

वाजिद संगीतकार साजिद के छोटे भाई थे। दोनों भाई पिछले 13 साल से बॉलीवुड फिल्मों में म्यूज़िक कंपोज कर रहे थे। उन्होने 1998 में सलमान खान की फिल्म ‘प्यार किया तो डरना क्या’ में संगीत दिया था। दबंग सीरिज के सभी गाने भी साजिद वाजिद ने बनाए थे।

सलमान खान की सभी फिल्मों में साजिद-वाजिद की जोड़ी ही म्यूज़िक कम्पोज़ किया करती थी। वाजिद खान बेहतरीन सिंगर भी थे। उन्होने कई सिंगिंग रिएलिटी शोज़ को जज भी किया था। वो बेहद खुशमिजाज़ शख्स माने जाते थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *