सोनू सूद की सेवाभाव पर तंज कस्ते हुए शिवसेना नेता संजय राउत बोले- वो अभिनेता हैं, पैसों के लिए कुछ भी…

लॉकडाउन के दौरान मुंबई सहित आसपास के इलाकों में फंसे मजदूरों, कामगारों और छात्रों को उनके घर पहुंचाने का काम कर रहे अभिनेता सोनू सूद की हर तरफ काफी तारीफ हो रही है। जहां पूरा देश अभिनेता सोनू सूद की दरियादिली का कायल हो गया है, वहीं महाराष्ट्र की सत्ताधारी पार्टी शिवसेना उनकी सेवाभाव को भी राजनीति के चश्मे से देखने में लगी है। शिवसेना के नेता संजय राउत ने सोनू सूद पर सवाल उठाए हैं और कहा ‘क्या इतने झटके और चतुराई के साथ किसी को महात्मा बनाया जा सकता है?’

रविवार को शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के आर्टिकल में संजय राउत ने सोनू सूद पर कटाक्ष करते हुए पूछा कि ‘जब लॉकडाउन में लोगों को कहीं आने-जाने की अनुमति नहीं है तो बिना किसी राजनीतिक दल की मदद के उन्हें बसें कैसे मिल जा रही हैं?’ संजय राउत लिखते हैं, ‘लॉकडाउन के दौरान अचानक सोनू सूद नामक एक नये ‘महात्मा’ प्रकट हुए हैं। यह कहा जा रहा है कि उन्होंने लाखों प्रवासी मजदूरों को दूसरे राज्यों में उनके घर पहुंचाया और महाराष्ट्र के राज्यपाल ने भी इस काम के लिए महात्मा सूद की प्रशंसा की है’।

संजय राउत ने आगे लिखा कि ‘जब राज्य सरकारें प्रवासी मजदूरों को कहीं जाने की अनुमति नहीं दे रही हैं तो वो कहां जा रहे हैं?’ सोनू सूद पर तंज कस्ते हुए संजय राउत ने यहां तक कहा कि बहुत ही जल्द वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिल सकते हैं और मुंबई के सेलिब्रिटी मैनेजर बन सकते हैं। संजय राउत यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि ‘सोनू सूद एक अभिनेता हैं, वो पैसे के लिए कुछ भी कर सकते हैं। अभिनय करना ही उनका पेशा है’।

हाल ही में सोनू सूद ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी। इस दौरान राज्यपाल ने सोनू सूद द्वारा प्रवासी मजदूरों को उनके घर सुरक्षित पहुंचाने के लिए उनकी तारीफ की। साथ ही राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने अभिनेता को मदद देने के लिए हर तरह का सहयोग देने की बात भी कही। राज्यपाल इससे पहले भी सोनू सूद के काम की तारीफ कर चुके हैं।

यही नहीं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने भी सोनू सूद की सराहना की थी। सोनू सूद ने मुंबई में फंसे उत्तराखंड के कई निवासियों को अपने खर्च पर चार्टर्ड विमान से उत्तराखंड के देहरादून भेजा था। इस पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोनू सूद को धन्यवाद दिया और कोरोना वायरस संकट खत्म होने के बाद सोनू सूद को पहाड़ी राज्य में आने के लिए आमंत्रित किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *