जानिए हरभजन सिंह को कंधों पर बिठाने वाली MTV रोडीज की विनर श्वेता मेहता के बारे में कुछ खास बातें!

साल 2017 में एमटीवी के फेमस रियलिटी शो ‘रोडीज राइजिंग-14’ की विनर रही हरियाणा के फतेहाबाद की ‘धाकड़’ छोरी श्वेता मेहता की पॉपुलैरिटी अब काफी बढ़ चुकी है। श्वेता मेहता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं और आए दिन अपनी लेटेस्ट तस्वीरें अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर करती रहती हैं। इन दिनों उनकी कुछ लेटेस्ट फोटोज जमकर वायरल हो रही हैं।

श्वेता मेहता अपनी फिटनेस के साथ परफेक्ट फिगर का भी खास ध्यान रखती हैं। इसी के चलते उन्हें बहुत पसंद किया जाता है। आये दिन श्वेता मेहता अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर वर्कआउट करते हुए तस्वीरें और वीडियोज पोस्ट करती रहती हैं।

श्वेता मेहता अक्सर इंटरनेट पर अपने ड्रेसिंग सेंस और ग्लैमरस अंदाज को लेकर भी छाई रहती हैं। लोग उनकी फिटनेस और उनके अंदाज की तारीफ करते नहीं थकते हैं। इंस्टाग्राम पर श्वेता की अच्छी-खासी फैन-फोल्लोविंग है।

बेहतरीन फिटनेस एथलीट, गजब व्यक्तित्व वाली श्वेता ने प्रसिद्ध क्रिकेटर हरभजन सिंह को अपने कंधे पर उठाकर एमटीवी रोडीज राइजिंग-14 में शामिल होने का मौका पाया था। रोडीज राइजिंग-14 का खिताब अपने नाम करने से पहले दुनिया की सबसे श्रेष्ठ फिटनेस एथलीट में शामिल श्वेता मेहता जेराई वुमेन फिटनेस मॉडल चैंपियनशिप 2016 जीत चुकी हैं।

रोडीज राइजिंग-14 में नेहा धूपिया की टीम मेंबर रह चुकीं श्वेता पेशे से एक इंजीनियर हैं। श्वेता ने 2009 में जीजेयू, हिसार से बीटेक किया और आईटी में नौकरी करने के लिए बैंगलुरू चली गई। वहां 5 साल तक आईटी कंपनी में नौकरी की। श्वेता मेहता के पास 70 हजार तनख्वाह वाली नौकरी थी।

नौकरी के दौरान श्वेता को हफ्ते में दो दिन छुट्टी होती थी और दोस्तों और परिजनों का पूरा सपोर्ट था, लेकिन उन्होंने महसूस किया कि उन्हें किसी और क्षेत्र में काम करना चाहिए। इसके लिए उन्होंने अपने पैरेंट्स को समझाया और फिटनेस व बॉडी बिल्डिंग की दुनिया में कदम रखा। यहां कुछ समय में ही उन्होंने अपनी खास पहचान बना ली।

फिटनेस एथलीट बनने के लिए श्वेता ने शानदार लाइफ-स्टाइल छोड़कर एथलीट की कड़ी लाइफस्टाइल को जीवन का लक्ष्य बना लिया। राह आसान नहीं थी, एक छोटे से शहर से आई लड़की के लिए फिटनेस वल्र्ड में आकर नाम कमाना एक सपने जैसे था, आखिर कई चुनौतियां जो थी सामने, पर फिटनेस की दुनिया में नाम कमाने को श्वेता हर कुर्बानी देने को तैयार थी।

श्वेता का मानना है की बॉडी बिल्डिंग के लिए अनिवार्य शर्त है कि छोटे कपड़े पहनने पड़ते हैं, परिवार के विरोध के बावजूद श्वेता ने छोटे-छोटे कपड़े पहने, इसके बाद फिटनेस में करियर बनाने के लिए श्वेता को अपनी नौकरी छोड़नी पड़ी।

श्वेता ने बॉडी बिल्डर बनने के लिए महंगे प्रोटीन लेने के लिए खुद की सारी जमा पूंजी तक लगा दी। बावजूद इसके जब बॉडी बिल्डिंग के लिए जरूरी नुट्रिएंट्स के लिए पैसों की कमी पड़ी तो श्वेता ने अपना बड़ा घर छोड़कर छोटा घर ले लिया। लेकिन सभी मुश्किलों को पार करने के बाद श्वेता आज बॉडी बिल्डिंग और फिटनेस की दुनिया में एक बड़ा नाम बन चुकी हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *